दिल्ली/नोएडाराज्य

CM ने कोविड केयर सेंटर का किया दौरा, लगेंगे 10 हजार बेड

नई दिल्ली
दिल्ली के छतरपुर इलाके में भाटी माइंस स्थित राधा स्वामी सत्संग ब्यास के सत्संग सेंटर में बनाए जा रहे कोविड-19 केयर सेंटर का गुरुवार को अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दौरा किया। इस दौरान उन्होंने मेहरौली की एसडीएम से व्यवस्थाओं की जानकारी ली। दौरे के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यहां कोविड का आइसोलेशन सेंटर बनाया जा रहा है। यहां करीब 10 हजार बेड बनाए जा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के हल्के लक्षण वाले मरीज़ घर में रह सकते हैं, लेकिन कई लोगों के पास घर में व्यवस्था नहीं है। कुछ लोगों के घरों में टॉयलेट नहीं हैं। केजरीवाल ने कहा ऐसे लोगों के आइसोलेशन की व्यवस्था हमें करनी होती है, जिन्हें कोविड केयर सेंटर कहते हैं। उन्होंने बताया कि सत्संग सेंटर में एक कोविड केयर सेंटर ही बनाया जा रहा है। हम उम्मीद करते हैं कि जुलाई के पहले हफ्ते में यह बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होंने कहा है कि जैसे हमने कबा था कि 30 जून तक 15 हज़ार और 15 जुलाई तक 30 हज़ार बेड का इंतजाम कर लेंगे। सरकार उसी दिशा में ये कदम उठा रही हैं।

ICU बेड की भारी कमी
होटल में तीन- साढ़े तीन हजार बेड की व्यवस्था की जा रही है। उसके अ्लावा बैंक्वेट हॉल में व्यवस्था की जा रही है। उम्मीद है कि दिक्कत नहीं होनी चाहिए। बस एक ही चिंता है कि आने वाले समय मे ICU बेड्स की दिक्कत हो सकती है, उसकी भी व्यवस्था की जा रही हैं। किन-किन हॉस्पिटल में ICU बेड बढ़ा सकते हैं वो देखा जा रहा है। होटल में ICU बेड नहीं लगा सकते हैं।

गृहमंत्री के साथ और DDMA मीटिंग पर बोले CM
केजरीवाल ने कहा, गृहमंत्री के साथ मीटिंग में चर्चा हुई कि NCR को एक पूरी यूनिट के तौर पर कैसे बचाया जा सकता है। क्योंकि एनसीआर को अलग नहीं किया जा सकता ये सब एक ही है। वहीं, बाकी दोनों राज्यों के आसपास के इलाकों के जिलाधिकारियों को बुलाया गया था। उन्होंने कहा एक तरह से NCR को कोरोना के लिए एक यूनिट मानना है।

दिल्ली में टेस्टिंग के दो बड़े फैसलें
टेस्टिंग की वजह से दिल्ली में कुछ लोगों को तकलीफ हो रही थी। आज दिल्ली के लोगों के लिए खुशी की बात है कि दिल्ली में दो बड़े निर्णय हुए हैं। एक ये कि टेस्टिंग के रेट दिंल्ली में 4500 से घटाकर 2400 कर दिए गए हैं। सभी लैब्स को कह दिया गया है कि सब अधिकतम क्षमता पर काम करेंगे। जितने ज्यादा से ज़्यादा टेस्ट कर सकते हैं, उतने करेंगे। इसके अलावा rapid antigen test जो 15-30 मिनट में रिपोर्ट दे देता है वो बहुत बड़े स्केल पर आज से दिल्ली में हज़ारों की संख्या में शुरू हो गए हैं। केजरीवाल ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि अब दिल्ली के लोगों को टेस्टिंग को लेकर कोई दिक्कत होगी।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close