देश

LAC पर हुई इस झड़प के बाद दिल्ली में बैठकों का दौर भी शुरू 

नई दिल्ली 
भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. सोमवार रात को LAC पर हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए. इस झड़प में चीन को भी भारी नुकसान हुआ है. समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक उसके 43 सैनिक हताहत हुए हैं. इसमें से कुछ की मौत हुई है तो कुछ गंभीर रूप से घायल हैं. इस बीच, LAC के पार चीनी हेलिकॉप्टर को देखा गया है. हेलिकॉप्टर मृत और घायल सैनिकों को ले जाने के लिए आया था.

बता दें कि सोमवार रात को दोनों देशों की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी. ये घटना तब हुई जब सोमवार रात को गलवान घाटी के पास दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति आगे बढ़ रह थी. इस पूरी घटना पर भारतीय सेना ने बयान जारी किया है. सेना ने कहा कि 15 जून की रात को गलवान घाटी इलाके में हिंसक झड़प हुई थी. इस घटना में 20 सैनिक शहीद हुए हैं.
 
घटना पर विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत ने हमेशा LAC का सम्मान किया और चीन को भी ऐसा करना चाहिए. मंत्रालय ने कहा कि LAC पर कल जो हुआ उससे बचा जा सकता था. दोनों देशों को नुकसान उठाना पड़ा है.

दिल्ली में बैठकों का दौर
LAC पर हुई इस झड़प के बाद दिल्ली में बैठकों का दौर भी शुरू हो गया. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे के साथ बैठक हुई. वहीं, राजनाथ सिंह ने इस मामले की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी को फोन पर दी. तो वहीं विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पीएम आवास जाकर प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की. प्रधानमंत्री आवास पर सीसीएस की भी बैठक हुई.
 
उधर, बीजिंग ने उलटे भारत पर घुसपैठ करने का आरोप लगाया. अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, बीजिंग का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने बॉर्डर क्रॉस करके चीनी सैनिकों पर हमला किया था. चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत ऐसी स्थिति में एकतरफा कार्रवाई ना करे.
 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close